• Adarsh Mahila Mandal
  • Adarsh Mahila Mandal
  • Adarsh Mahila Mandal

About Us

संस्था का उद्देश : इस संस्था के निम्नलिखित उद्देश्य होगा ।

  • संस्था समाज सर्वागीण विकास के लिए शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यावरण, उर्जा, कृषि, बागबानी, जलछाजन, भिछाटन से संबधिंत सभी कार्यो को करेगी ।
  • संस्था महिलाए एवं पुरुषों को सवाबलंबी बनाने के लिए सिलाई, कठाई, बुनाई, खादी ग्रामोद्योग, लघु उद्योग, के बारे में जानकारी देगी ।
  • संस्था विकलांगों के कृतिम अंग, पुर्नवास, शिक्षा एवं चिकित्सा उपलब्ध करायेगी तथा भोजन चिकित्सा उपलब्ध करवाने का प्रयास करेगी ।
  • संस्था अनाथ, बेसहारा, नि:सहाय वृद्ध विधवाओं एवं पुरुषो के लिए आश्रम स्थल, भोजन, चिकित्सा, उपलब्ध करवाने का प्रयास करेगी ।
  • संस्था असाध्य रोग जैसे टी0 बी0 कुष्ट, एड्स, से बचने के लिए आवश्यक जानकारी एवं परिवार नियोजन से संबधिंत सारे कार्यो को करेगी ।
  • संस्था ग्रामीणों को आर्थिक विकाश हेतु पशुपालन, मतस्य पालन, बकरी पालन एवं कृषि से संबधिंत सारे कार्यो को करेगी ।
  • संस्था सम्मेलन, कार्यशाला/सेमीनार, प्रदर्शन / मेला एवं बाल विवाह , दहेज प्रथा, नशाखोरी , जुआ खेलना, बाल श्रमिक , बंधुआ श्रमिक की प्रथा को समाप्त करेगी ।
  • संस्था पुस्तकालय, वाचनालय, संगीतालय की स्थापना कर लोंगो को बौद्धिक विकाश में मदद करना एवं नृत्य, संगीत, नाटक के बारें में जानकारी देगी ।
  • उपभोक्ता कार्यक्रम को सफल बनाने तथा इस कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु सहभागिता प्रदर्शित करना ।
  • संस्था प्रौढ महिलाओं के लिए अनौपचारिक शिक्षा, संक्षिप्त पाठ्यक्रम, बच्चों एवं बच्चियों के लिए पत्रिका, मैगजीन, छपाई, मोमबत्ती, दिया सलाई, पापड़, पेंन्टिग, टंकन, कंप्यूटर चित्रकारी के बारे में जानकारी देना ।
  • संस्था पर्यावरण की सुरक्षा के लिए एवं उसे प्रदुषण रखने के लिए उन्नत चुल्हा, वायो गैस एवं गोबर गैस से संबंधित सभी कार्यो को करेगी ।
  • बाल श्रमिक, महिला श्रमिक एवं अन्य श्रमिक के कल्याणार्थ कार्यक्रम का संचालन करना ।
  • विकलांगों को समाज के मुख्यधारा में जोड़ते हेतु कृतिम अंग, शिक्षा, चिकित्सा’ आदि की व्यवस्था करना ।
  • लोगों कों स्व्च्छता के महत्व को समझाना एवं सफाई अभियान चलाना । लोगों को स्वच्छ पेयजल, सौचालय आदि उपलब्ध कराना ।
  • कृषि के विकाश हेतु कृषकों को आधुनिक औजार, उन्नत बीच, उन्नत खाद, सिचाई के उपयुक्त साधन जैसे जलछाजन, नलकुप, तालाब, आदि उपलब्ध कराना ।
  • महिलाओं को रोजगारोन्मुख बनाने हेतु सिलाई, कटाई, बुनाई, कशीदाकारी, एपलिक के बारे में जानकारी देना ।
  • गरीब एवं निःसहाय महिलाओं एवं पुरुषों को आत्म निर्भर बनाने हेतु लघु उद्योग, कुटिर उद्योग, गृह उद्योग, खादी ग्रामोद्योग, डेयरी, खाद्ध एवं फल प्रसंस्करण आदि के बारे में प्रशिक्षण देना ।
  • शिक्षित बेरोजगार युवक /युवतियों को हस्तकला, शिल्पकला, टंकणकला, आशुलिपि, कम्पुटर आदि के बारे में प्रशिक्षण देना । विज्ञान एवं प्रोद्योगिक के प्रचार प्रसार हेतु कार्य करना ।
  • देश की एकता, अखंडता, आपसी सदभावना हेतु लोगों को जागरूक करना एवं इससे संबंधित कार्यक्रमों का संचालन करना ।
  • समाज के गरीब, हरिजन, पिछड़े, अल्पसंख्यक के आर्थिक, शारीरिक, मानसिक, शैक्षणिक विकाश हेतु विभिन्न कार्यक्रमों का संचालन करना ।
  • शिक्षा का दीप घर – घर प्रज्वलित करने हेतु शिक्षा के विभिन्न कार्यक्रमों का संचालन करना एवं शिक्षण संस्थान की स्थापना और संचालन करना । मेधावी छात्रों को प्रोत्साहित करना ।
  • महिलाओं एवं बच्चों के चौमुखी विकाश हेतु महिला मंडल, स्वंय सहायता समुह, आंगनबाड़ी, बालवाड़ी, पालनाघर आदि का संचालन करना ।
  • जनसंख्या नियंत्रण हेतु लोगों को जागरूक करना एवं परिवार कल्याण शिविर, टीकाकरण शिविर का आयोजन करना ।
  • उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम, पंचायती राज, व्यस्क मताधिकार के बरी में लोगों को जागरूक करना एवं आवश्यक जानकारी देना
  • बागबानी विकास हेतु कार्यक्रम संचालित करना ।